पर्यटन उद्योग से जुड़े लोगों के समस्या कम होने का नाम नहीं ले रही है।राज्य सरकार ने अब नियम बना दिया है कि जो भी पर्यटक पर्यटन स्थलों पर घूमने आएंगे उनको rt-pcr टेस्ट की नेगेटिव रिपोर्ट या फिर डबल डोज वैक्सीन के सर्टिफिकेट दिखानी होगी। इसने देश के आने के बाद से पर्यटन उद्योग पर फिर एक बार संकट के बादल गहराने लगे हैं। गौरतलब है कि डुआर्स हमेशा से पर्यटकों का पसंदीदा पर्यटन स्थल रहा है। यहां गोरुमारा, मदारीहाटा, जलढाका के अलावा और भी कई घने जंगल है जहां पर पूरे साल पर्यटक घूमने आते हैं। लेकिन जब से यह सरकारी निर्देश आया है उसके बाद से पर्यटकों का आना फिर कम हो गया है। पिछले कुछ दिनों में इन इलाकों में पर्यटक आना शुरू हो गए थे। लेकिन फिर एक बार सरकार के नए आदेश के बाद पर्यटन से जुड़े लोगों मायूस नजर आ रहे हैं। बीते कल गोरुमारा रिसॉर्ट वेलफेयर एसोसिएशन के सदस्यों ने जलपाईगुड़ी जिलाशासक से मिलकर अपनी समस्याओं को बताया। सदस्यों ने जिला प्रशासन से अनुरोध किया है कि आरटी पीसीआर टेस्ट के साथ ही साथ एंटीजन टेस्ट को भी मान्यता दिया जाए।जिलाशासक ने पर्यटन उद्योग से जुड़े संगठनों को आश्वासन दिया है कि इस संबंध में गंभीरता से विचार किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here