इस युवक का नाम वापी राय है। अपने माता-पिता का लाडला बेटा है। एक समय पूरी तरह से स्वस्थ था। स्कूल भी जाता था। दोस्तों के साथ खेलकूद भी क्या करता था लेकिन 10 साल पहले अचानक इसके जिंदगी मैं उफान गया। अचानक बापी मानसिक रोग का शिकार हो गया। गरीब मां बाप ने अपनी जमीन जायदाद बेचकर अपने बेटे का इलाज करवाया। लेकिन बापी राय पूरी तरह से स्वस्थ नहीं हो पाया और आज भी उसी हाल में है। मां बाप के पास अब इतने पैसे नहीं है कि बेटे का इलाज करवा सके। और यही वजह है कि विवस माता पिता अपने लाडले बेटे को लोहे की जंजीर से बांधकर घर के बरामदे में बैठा कर रखते हैं। ताकि गांव के लोगों को वह परेशान ना करें। बापी राय के पैरों में लोहे की जंजीरों से घाव भी हो गए हैं ।वापी के माता-पिता ने बताया कि मानसिक रोगी होने के वजह से मेरा बेटा आस-पड़ोस के घरों में जाकर लोगों को परेशान करता है।यही वजह की है हम लोगों ने उसे जंजीर से बांध के रखा है। हम मजबूर हैं। विवस हैं। हमारे पास इतने पैसे नहीं है कि हम बेटे का इलाज करा सके। अगर सरकार और सामाजिक संस्थाएं हमें मदद करेगी तो मेरा बेटा ठीक हो सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here